Education News : EMRS : In Eklavya schools 38000 teachers of tribal languages will be recruited Union Minister – एकलव्य स्कूलों में जनजातीय भाषा के 38000 शिक्षकों की होगी भर्ती : केंद्रीय मंत्री-Inspire To Hire


ऐप पर पढ़ें

script async src="https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2456890113413633" crossorigin="anonymous">

जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा है कि देशभर में जनजातीय और क्षेत्रीय भाषा के 38 हजार शिक्षक जल्द बहाल होंगे। इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। वे शुक्रवार को झारखंड के रामगढ़ के रजरप्पा प्रखंड के सुकरीगढ़ा स्थित डॉ एस राधाकृष्णन शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय में आयोजित तीन दिनी शिल्प प्रदर्शनी सह जागरुकता कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे।

अर्जुन मुंडा ने कहा कि भारत 2047 में आजादी का 100वां वर्ष मनाने की तैयारी में है। ऐसे में विकसित भारत का सपना साकार करने के लिए सरकार कई कार्यक्रम चला रही है। उन्होंने प्रशिक्षुओं के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उनसे भविष्य में बेहतर नागरिक बनने का आह्वान किया। बता दें कि इस कॉलेज में चल रही शिल्पकला प्रदर्शनी में लोकल फॉर वोकल के तहत ढोकरा, जूट, टेराकोटा, सोहराय पेंटिंग, बॉस क्राफ्ट शिल्पकारी संचालित की जा रही है।

मौके पर जनआकांक्षा सोसाइटी के सचिव मणिकांत सिन्हा, महाविद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष रितेश कुमार, सचिव संजय कुमार प्रभाकर, मनीष कुमार मुंडा, प्राचार्य डॉ शिव कुमार राणा मौजूद थे। संचालन सहायक प्राध्यापक नयन कुमार मिश्रा ने किया।

कुछ दिनों पहले अर्जुन मुंडा ने कहा था कि देश में जल्द ही 401 नए एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय खुलने जा रहे हैं। 

script async src="https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2456890113413633" crossorigin="anonymous">


Leave a Comment