IPS Officer Training Schedule in LBSNAA SVPNPA after clearing IAS UPSC Exam-Inspire To Hire


UPSC IPS Officer Training: यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) के लिए जिन उम्मीदवारों को इंडियन पुलिस सर्विस (IPS) के लिए चुना जाता है, उन्हें काफी मुश्किल ट्रेनिंग दी जाती है।  सिर्फ यूपीएससी क्लियर करने से देश को IPS अधिकारी नहीं मिलता। कम लोग जाते हैं, यूपीएससी परीक्षा में पास होने के बाद से लगभग दो साल बाद एक IPS अधिकारी तैयार होता है। आइए इस बारे में विस्तार से जान लेते हैं ट्रेनिंग के बारे में।

script async src="https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2456890113413633" crossorigin="anonymous">

आईपीएस का फुल फॉर्म  इंडियन पुलिस सर्विस है। IPS का कार्य देश में कानून और व्यवस्था बनाए रखना है। सबसे पहले आपको बता दें, आईपीएस ट्रेनिंग को चार भागों में बांटा गया है। ये चार भाग इस प्रकार है।

– फाउंडेशन कोर्स  (LBSNAA, मसूरी)- तीन महीने के लिए

– फेज  I ट्रेनिंग- नेशनल पुलिस एकेडमी सरदार वल्लभभाई पटेल (SVPNPA), हैदराबाद (ट्रेनिंग का समय 11 महीने का होता है)

– डिस्ट्रिक्ट प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (6 महीने के लिए)

script async src="https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-2456890113413633" crossorigin="anonymous">

– फेज  II  ट्रेनिंग- नेशनल पुलिस एकेडमी सरदार वल्लभभाई पटेल (SVPNPA), हैदराबाद (ट्रेनिंग का समय 1 महीने का होता है)

ऐसे होती है ट्रेनिंग

– जब उम्मीदवार यूपीएससी की परीक्षा पास करते हैं, तो सबसे पहले उन्हें फाउंडेशन कोर्स के लिए लाल बहादुर शास्त्री नेशनल एकेडमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन (LBSNAA) भेजा जाता है। इस कोर्स का समय 3 महीने का होता है।


– इस कोर्स को पूरा होने के बाद IPS पद के लिए चुने गए उम्मीदवारों को नेशनल पुलिस एकेडमी सरदार वल्लभभाई पटेल (SVPNPA), हैदराबाद भेजा जाता है। यहां ट्रेनिंग का समय 11 महीने का होता है।

– SVPNPA, हैदराबाद में फेज I के 11 महीने की ट्रेनिंग पूरी करने के बाद आईपीएस अधिकारी ट्रेनी को अपने कैडर के एक जिले में 6 महीने की ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है। जिसे पूरा करने के बाद अधिकारियों को फिर से SVPNPA में जाना होता है।

–  डिस्ट्रिक्ट प्रैक्टिकल ट्रेनिंग पूरी होने के बाद अधिकारियों को एक महीने के लिए फिर से SVPNPA, हैदराबाद  लौटना पड़ता है। यहां उनकी फाइनल ट्रे्निंग होती है। जिसके बाद 1 साल 9 महीने की ट्रेनिंग पूरी करने के बाद देश के लिए  IPS अधिकारी तैयार किया जाता है। अंत में उन्हें जिला कैडर दे दिया जाता है और राष्ट्रपति भवन में शपथ दिलवाई जाती है।

 


Leave a Comment